IAS Officer कैसे बने अब हिंदी में

जब हम अपना पढाई कर रहे होते है तब हम अपने बारे में जरूर सोच रखे होते है यानि हर व्यक्ति जो अपने जीवन में कुछ न कुछ करना चाहते है वो अपने आने वाले भयविषय के बारे में जरूर सोच रखे होते है। जैसे की अगर आप डॉक्टर बनना है तो आप अपने पढाई में डॉक्टर से ही सम्बंधित पढाई पर ज्यादा से ज्यादा फोकस करते है। और किसी के जिन्दगी में अपना एक सपना होता है जैसे मैं बड़ा होकर कुछ बनुगा। इसलिए आज का हमरा जो टॉपिक है वो एक करियर से सम्बंधित है।

आज हम आईएएस ऑफिसर (IAS Officer) के बारे में बात करने वाले है क्योकि माना जाता है इंडिया में आईएएस बनाना बहुत ही कठिन है। और इसलिए बहुत ज्यादा मेहनत करने की आवश्यकता पड़ती है। लेकिन सच बात तो ये है आईएएस ऑफिसर बनना कठिन है तो लेकिन अगर कोई भी काम को अपने मेहनत और लगन के साथ की जाये तो वो आसान बन जाता है।

आज मैं आप लोगो को यही बताने वाला हूँ की अगर हमें आईएएस ऑफिसर बनना है तो वो कौन कौन से जरुरी काम है जिसको हमें करना है। उसके बाद ही हम आईएएस ऑफिसर की तयारी कर पायेंगे। कुछ लोग ऐसे भी जो आईएएस ऑफिसर बनाने के लिए हार्ड वर्क तो बहुत करते है परन्तु वो स्मार्ट वर्क नहीं करते है। IAS EXAM in Hindi

इसलिए मैं आपको बताना चाहता हूँ आज के स्मार्ट दुनिया में हमें हार्डवर्क के साथ साथ स्मार्ट वर्क भी करना आना चाहिए। तो चलिए अब हम अपने मैं टॉपिक की तरह चलते है। अगर आपको आईएएस बनना है तो आईएएस के बारे में पूरी जानकारी होनी चाहिए। जैसे आईएएस की एग्जाम कैसे होते है और 10वी और 12वी पढ़ने के बाद हमें किस तरह से पढाई करना है और कौन से सब्जेक्ट को ज्यादा से ज्यादा फोकस करना है। जैसे की मैंने आपको बताया है

आईएएस एग्जाम भारत की बहुत ही ज्यादा और मुश्किल एग्जाम में से एक है हर साल पुरे भारत में लाखों स्टूडेंट इस एग्जाम को देते है परन्तु उसमे से भी कुछ ऐसे स्टूडेंट होते है जो इस एग्जाम को क्रैक कर पाते है।

बहुत सारे ऐसे भी स्टूडेंट है जिन्हे एग्जाम के बारे में अच्छे से पता भी नहीं होता है और वो आईएएस एंट्रेंस एग्जाम को पास नहीं कर पाते है। इसलिए मैं आपको बताने वाला हूँ What is IAS in Hindi और एक आईएएस ऑफिसर का क्या काम होता है और उसका पावर क्या होता है और जो सबसे जरुरी है आईएएस अफसर बनने के लिए हमें शुरू से लेकर लास्ट तक क्या क्या करना चाहिए।

 

आईएएस एग्जाम (IAS Exam) क्या है

तो IAS का फुल फॉर्म (Indian Administrative Service) होता है और इस एग्जाम को UPSC (Union Public Service Commission) कराती है। जो लोगो आईएएस की तयारी करते है असल में वो Civil Service का त्यारी कर रहा होता है जिसके अंतर्गत IAS (आईएएस), IPS (आईपीएस), IFS (आईएफएस), और IRS सहित कुल 24 तरह के सर्विसेस है

लेकिन बहुत सारे लोग ये पूछते है जब सिविल सर्विस एग्जाम को क्लियर कर लेते है उसके बाद हमें किस पोस्ट में बहाली मिलती है। यानि कौन से पोस्ट ऑफर किये जाते है। तो मैं आपको बता दूँ जब आप एग्जाम को क्लियर कर लेते है उसके बाद जितने भी लोग DM, SDM, इत्यादि होते है वो सभी के सभी आईएएस होते है। जो लोग SP, DSP, आदि बनते है वो आईपीएस Category में आते है।

 

आईएएस बनने के लिए Qualification क्या है

अगर IAS Exam की क्वालिफिकेशन की सबसे बड़ी बात है इसमें सिर्फ ग्रेजुएशन पास होने चाहिए। इसके लिए आपको किसी भी प्रकार के प्रो ग्रेजुएशन की आवश्यकता नहीं है।

अगर आप ग्रेजुएशन में मिनिमम मार्क्स से पास है या आप अभी भी ग्रेजुएशन के लास्ट ईयर में है या लास्ट सेमेस्टर है तो भी इस एग्जाम के लिए फॉर्म भर सकते है। इसके आलावा अगर आप और जैसे BA, BSC, B.COM BBA, MEDICAL, ENGINEERING का कोर्स किये है तो भी आप इस एग्जाम को दे सकते है। इसके आलावा जो सबसे जरुरी है की जितने भी लोग इस एग्जाम को देना चाहते है वो इंडियन सिटीजन होने चाहिए।

AGE CRITERIA

General  21-32 Years

OBC        21-35 Years

SC/ST     21-37 Years

विकलांग – 42 वर्ष {10 वर्ष की छूट}

 

Attempt

General Candidate – 6 attempt {up to 32 years}

SC/ST – No limit (Up to 37 Years)

OBC – 9 Attempt (up to 35 Years)

Jammu and Kashmir नागरिक – आयु सीमा तक

आप जितने भी एग्जाम attempt करते है सिर्फ उसी को काउंट किया जाता है अगर आप सिर्फ फॉर्म भरते है और एग्जाम नहीं देते है उसको काउंट नहीं किया जाता है और ये सबसे महत्वपूर्ण और ध्यान रखने वाली बात है।

 

सेलेक्ट होने की चांस

ये सबसे महत्वपूर्ण है अगर आप सिविल सर्विस एग्जाम को देते है तब आपको कितने प्रतिशत चांस रहता है की आप उस एग्जाम को पास कर सेलेक्ट हो सकते है किसी भी स्टूडेंट का सिविल Civil Service Exam में पास होने का चांस मात्र 0.21% रहता है। क्योकि बहुत सारे लोग इस एग्जाम को देने के लिए अप्लाई करते है और उसमे से कुछ ही इस एग्जाम को पास कर पाते है।

क्योकि 2019 में 8 लाख स्टूंडेंट ने UPSC एग्जाम के लिए अप्लाई किये थे जिसमे से मात्र 12,000 स्टूडेंट ने Civil Services (Main) Examination को पास किये थे। और उसमे मात्र 2500 स्टूडेंट ने UPSC की इंटरव्यू को दिया था जिसमे से कुछ स्टूडेंट ने इस इंटरव्यू को क्रैक किया था। तो आप सोच ही सकते है की सिविल सर्विस एग्जाम की पासिंग रेट कितना कम है

 

Exam Pattern

इतना इनफार्मेशन को लेने के बाद अब बात करते है एग्जाम पैटर्न का कैसे कैसे इस एग्जाम को देना है। अगर एग्जाम पैटर्न की बात की जाये तो उसमे तीन स्टेप होते है जो निचे दिए गए है।

  1. Preliminary 
  2. Mains
  3. Interviews

Preliminary

Prelims एग्जाम में पेपर कराए जाते है इसमें से जो पहला होता है General Studies जो 200 नंबर का होता है और इसमें से दूसरा होता है CSAT (Civil Services Aptitude Test) और ये भी 200 मार्क्स होता है। और इन दोनों पप्पेर में questions की संख्या अलग अलग होता है। पहले पेपर में 100 question और दूसरे में 80 question रहता है। और इस एग्जाम को दो लैंग्वेज Hindi और इंग्लिश में से किसी एक में दे सकते है। अब आप जिस भी लैंग्वेज में कम्फर्टेबल है उसमे आप अपना एग्जाम को दे।

 UPSC Syllabus Paper-I (200 Marks)

  1. भारत की इतिहास और भारतीय और राष्ट्रीय आंदोलन इत्यादि 
  2. भारत एवं विश्व का भूगोल
  3.  राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय महत्त्व सामयिक घटनाएँ
  4.  भारती राज्यतंत्र और शासन- संविधान, राजनीतिक प्रणाली, पंचायती राज, लोकनीति, अधिकारों संबंधी मुद्दे
  5. आर्थिक  सामाजिक विकास सतत् विकास, गरीबी, जनसांख्यिकी, सामाजिक क्षेत्र में की गई पहल
  6.  जैव-विविधता और जलवायु परिवर्तन संबंधी सामान्य मुद्दे, पर्यावरणीय पारिस्थितिकी, जिनके लिये विषयगत विशेषज्ञता आवश्यक नहीं है
  7.  सामान्य विज्ञान

 

UPSC Syllabus Paper-II (200 Marks)

  1. संचार और कौशल, सहित अंतर वैयक्तिक कौशल
  2.  कौशल और विश्लेषणात्मक क्षमता
  3. निर्णय लेना और इसके साथ ही समस्याओं का  समाधान
  4. सामान्य मानसिक एंव योग्यता

 

Mains Exam

जब आप पहले वाला एग्जाम को क्लियर कर लेते है उसके बाद जो द्वारा एग्जाम होता है Mains का इसमें कुल 9 पेपर होते है और पुरे पेपर का टोटल मार्क्स 1750 नंबर का होता है अब आपको इन सभी 9 पेपर में से आपको 7 पेपर पर सबसे ज्यादा ध्यान देने है। क्योकि मेरिट इन्ही 7 पेपर से मिलकर बनाई जाती है।

इसके आलावा दूसरा दो पेपर कवालिफाइंग होता है और इन दोनों के मार्क्स को काउंट नहीं किया जाता परन्तु इन दोनों पेपर में आपको कम से कम 33% लाना अनिवार्य है। और इसमेसे पहला पेपर इंग्लिश और दूसरा पेपर लोकल लैंग्वेज का होता है और लोकल लैंग्वेज भी वही होगा जो समिधान में दर्ज है।

 

Interview

अब ये लास्ट और सबसे कठिन होता है क्योकि यही पर आपको अपनी सबसे कठिन परीक्षा देनी होती है क्योकि ज्यादातर स्टूडेंट होते है जो पहले दो परीक्षा तो पास कर लेते है परन्तु वो इस इंटरव्यू में रिजेक्ट हो जाते है क्योकि यंहा आपकी माइंड सेट को देखा जाता है कुछ स्टूडेंट तो कॉन्फिडेंस के कारन सेलेक्ट नहीं होते है।

अगर IAS Interview कैसे होता है इसके बारे में ज्यादा जानकारी लेना चाहते है उसके लिए आपको यूट्यूब पर सर्च करना होगा। जिसमे आपको मौक इंटरव्यू के कभी सारे वीडियोस मिल जाते है जिसको देखने के बाद आपको आईएएस की इंटरव्यू कैसे होता है उसके बारे में पूरी जानकारी मिल जायेगा।

Youtube Channel कैसे बनाये पूरी जानकारी हिंदी में
NDA क्या है और NDA कैसे किया जाता है

IAS Officer salary

अब बात आती है उनकी सैलरी कितनी होती है बहुत सारे लोग ऐसे सवाल को पूछते रहते है तो मैं आपको बता दूँ। इसमें आपको जो सैलरी मिलेगी वो आपके रैंक के हिसाब से अलग अलग होंगे। जैसे आपका रैंक क्या है और आपको जॉब कौन से ऑफर की गई है। जैसे डीएम के पाय स्केल 50 हजार से डेढ़ लाख तक होता है और मंत्री के सचिव और विभाग के सचिव की 1 से 2 लाख और चीफ सैकेटरी और कैबिनेट सैकेटरी को 2 से ढाई लाख तक मिलता है। सैलरी के आलावा बहुत सी फैसिलिटी मिलती है जैसे घर, गाड़ी इत्यादि। 

 

error: Content is protected !!