प्रधानमंत्री जननी सुरक्षा योजना | Janani Suraksha Yojana Registration Form | JSY आवेदन कैसे करे।

Pradhan Mantri Janani Suraksha Yojana Registration Form | प्रधान मंत्री जननी सुरक्षा योजना | आवेदन ऑनलाइन फॉर्म

इस योजना से हमारे देश के बहुत ही बड़ी परेशानी ख़तम हो गयी है | हमारे देश में सही सुविधा नहीं मिलने के कारण हर साल गर्भावस्था के द्वौरान लगभग 56000 महिलाओं की मृत्यु हो जाती है| इस परेशानी को देखते हुए सरकार ने एक बहुत ही बड़ी योजना का ऐलान किया है | इस योजना का नाम है पीएम जननी सुरक्षा योजना | सरकार द्वारा चलाए गए इस योजना से गर्भवती महिलाओं और नवजातों में होने वाली परेशानियों को दूर किया जायेगा, इसलिए जननी सुरक्षा योजना के द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों और शहरी क्षेत्र के महिलाओ को आर्थिक सहायता दी जाएगी|

 

जो गर्भवती महिलाये पैसे की कमी कारण अपना और शिशु का ख्याल नहीं रख पाती है उन्हें आर्थिक मदद सरकार के तरफ से दिया जायेगा।

 

 योजना में गर्भवती महिलाओं को सहायता राशि सीधे उनके बैंक अकाउंट में भेज दिए जायेंगे, जिससे वो अपने सभी जरूरतों को पूरा कर सके। यदि किसी को जननी सुरक्षा योजना के बारे में जानकारी नहीं है, जिसके कारण वो इस योजना के लाभ नहीं ले पा रहे है तो इस हिंदी पोस्ट को पूरा पढ़िए, इस पोस्ट में, योजना क्या है, कैसे योजना के लाभ ले सकते है, इत्यादि सभी जानकारी दिया गया है।

 

 

प्रधान मंत्री जननी सुरक्षा योजना

प्रधानमंत्री के द्वारा गरीब परिवार के कल्याण हेतु बहुत सारे योजना चलाये जा रहे है। Janani Suraksha Yojana में देश के ग्रामीण क्षेत्र में रहने वाले गरीब परिवार के गर्भवती महिलाओं को सुरक्षित प्रसव और शिशु सुरक्षा के लिए केंद्र सरकार के द्वारा आर्थिक मदद दी जा रही है| इस योजना से गरीब परिवारों को बहुत ही ज्यादा मदद मिलेगा, साथ ही नवजात मृत्यु दर को कम करने में भी बहुत ज्यादा सफलता प्राप्त होगा |

 

जननी योजना को 12 अप्रैल 2005 को हमारे देश के प्रधानमंत्री के द्वारा लांच किया गया था, आज इस योजना को प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के सरकार में बहुत ही बड़े पैमाने पर लागु किया जा रहा है और ज्यादा से ज्यादा लोगों को योजना से जोड़ा जा रहा है |

 

Janani Surksha Yojana को भारत सर्कार के स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा चलाया जा रहा है | योजना के माध्यम से गर्भवती महिला प्रसूति के पहले देखभाल और प्रस्तुति के दौरान संस्थागत देखभाल और साथ ही नगद राशि सहायता के रूप में दी जा रही हैं। योजना को भारत के सभी राज्य और केंद्रशासित प्रदेशों में आंकड़े के अनुसार लागु किया गया है| योजना लाभ कैसे लेना है इससे सम्बंधित सभी जरुरी इनफार्मेशन को निचे लिस्ट में पढ़ सकते हैं।

Janani Suraksha Yojana

JSY योजना में कौन से क्षेत्र शामिल है

अभी तक जननी सुरक्षा योजना क्या है ये समझ में आ गया होगा, इसके बाद हमें ये समझाना जरुरी है इस योजना में कौन से क्षेत्र शामिल है | इस योजना में शहरी क्षेत्र और ग्रामीण क्षेत्र दो अलग-अलग क्षेत्रों को रखा गया है। दोनों ही क्षेत्र में योजना की प्रक्रिया भी थोड़ी बहुत अलग हैं।

ग्रामीण क्षेत्र – इस क्षेत्र के महिलाओं को जो की आर्थिक रूप से कमजोर है उन्हें सरकार के द्वारा प्रसव के द्वौरान देखभाल और प्रसव के उपरांत देखभाल, साथ ही 1400 रूपये नगद दिए जायेंगे। आशा सहयोगी को प्रसव प्रोत्साहन के लिए 300 रुपये और गर्भवती महिलाओं के देखभाल के लिए 300 के धनराधी दिए जायेंगे।

शहरी क्षेत्र – जो भी गर्भवती महिलाएं शहरी क्षेत्र में रहती है उन्हें इस योजना के माध्यम से 1000 की राशि दी जाएगी। आशा सहयोगी को प्रसव प्रोत्साहन के रूप में 200 और प्रसव के पूर्व देखभाल के लिए 200 धनराशि दिए जायेंगे।

 

Janani Suraksha Yojana का उद्देश्य

हम सभी को पता है योजना का मुख्य उद्देश्य  ऐसे गरीब परिवारों को आर्थिक सहायता प्रदान करना है जो की गरीबी रेखा से निचे है | गरीब परिवार के गर्भवती महिलाएं अपने गर्भावस्था के द्वारा पैसों की  कमी कारण अपने सभी जरूरतों को पूरा नहीं कर पातीं है इसका सीधा असर महिलाओं के स्वास्थ और गर्भ में पल रहे बच्चे पर पड़ता है |

आज भी हमारे देश के जितने भी ग्रामीण इलाके है वहां बहुत अच्छी मेडिकल सुविधा नहीं है। जिसके कारण वहां के गर्भवती महिलाओं को बहुत ही ज्यादा कठिनाइयों का समाना करना पड़ता है। आज भी हमारे देश में जरुरी सुविधा नहीं मिलने के कारण लगभग हर साल 56000 हजार महिलाओं की मृत्यु हो जाती हैं।

Janani Surksha Yojana का उद्देश्य सभी परेशानियों को ख़तम करना है| योजना के माध्यम से गर्भवती महिलाओं को चिकित्सा सुविधा और आर्थिक सहायता दी जाएगी। जननी सुरक्षा योजना का मकसद न की महिलाओं के मृत्युं दर को कम करना है बल्कि नवजात शिशु मृत्यु दर को कम करने के उद्देश्य से इस योजना को लाया गया हैं। गरीब परिवार योजना का लाभ पूरे देश में कहीं भी ले सकते हैं।

श्रेणी

ग्रामीण क्षेत्र

 

कुल

शहरी क्षेत्र

 

कुल

 

माता मिलने वाली पैकेज

आशा  पैकेज

रूपये

माता मिलने वाली पैकेज

आशा  पैकेज

रूपये

LPS

1400

600

2000

1000

200

1200

HPS

700

600

700

600

200

600

 

पीएम – जननी सुरक्षा योजना लाभ

जननी सुरक्षा योजना के माध्यम से गरीब परिवार के गर्भवती महिलाओं को केंद्र सरकार के द्वारा स्वास्थ्य और आर्थिक मदद दी जाएगी। जिससे वो अपने अच्छे से ख्याल रख सकें |

गर्भवती महिलाओं के प्रसव हो जाने के बाद शिशु के देखभाल जैसे टिकाकारण इत्यादि सभी सरकार के द्वारा किया जायेगा। मोबाइल में एसएमएस के माध्यम से सभी इनफार्मेशन दिए जायेंगे।

सुरक्षा योजना के लाभ लेने के लिए लाभार्थी को डिलीवरी अपने क्षेत्र के गोवेर्मेंट अस्पताल में निशुल्क कराया जाता है तथा प्रसव के द्वौरान सभी सुविधाए मुफ्त में दिए जाते है |

योजना के लाभ दो क्षेत्रों में दिए जाते है ग्रामीण क्षेत्र में रहने वाले महिलाओं को आर्थिक सहायता के रूप में 1400 की धनराशि और शहरी क्षेत्रों में रहने वाली गर्भवती महिलाओं को 1000 धनराशि आर्थिक सहायता के रूप में दिया जाता है।|

सभी योजनाओं का लाभ लेना बहुत ही सरल है यदि किसी महिला को अपने गर्भावस्था के बारे में पता चलता है उसके बाद वो अपना पंजीकरण निजी सरकारी अस्पताल में करा सकती हैं। इसके बाद उन्हें सभी योजनाओ का लाभ मिलता रहेगा।

 

कब हम योजना का लाभ ले सकते है

  • सुरक्षा योजना का लाभ शहरी क्षेत्र और ग्रामीण क्षेत्र दोनों ही ले सकते है|
  • कोई भी महिला अपने दो बच्चों को जन्म देने तक ही जननी सुरक्षा योजना का लाभ ले सकतीं है|
  • 19 वर्ष से ज्यादा उम्र की महिलाएं ही इस स्कीम में पंजीकृत हो सकती है
  • स्कीम से जुड़ने के महिलाओं को अपना पंजीकरण नजदीकी सरकारी अस्पताल में करना होगा।
  • स्कीम का लाभ सिर्फ गरीबी परिवार के महिलाएं ले सकती है।

 

JSY Scheme Required Document

  • आधार कार्ड
  • बैंक के पासबुक
  • पहचान पत्र यदि है तो
  • मोबाइल नंबर
  • जननी सुरक्षा कार्ड0
  • पासपोर्ट आकार के फोटो
  • अन्य जरूरी डॉक्यूमेंट लग सकते है

 

ये सभी जरूर पढ़ें –

 

जननी सुरक्षा योजना के लिए पंजीकरण कैसे करें

इस योजना से जोड़ने के लिए आपके क्षेत्र आशा मुख्य कड़ी की तरह काम करती है। आशा का काम होता है अपने क्षेत्र के गर्भवती महिलाओ के बारे में जानकारी एकत्रित करना। उसके बाद पात्र महिलाओ की लिस्ट बनाकर अपने क्षेत्र के आंगनवाड़ी को सौपना। कोई भी महिला जो गर्भावस्था में वो अपना पंजीकरण क्षेत्र के आशा या आंगनवाड़ी संचालिका के माध्यम से करा सकती है।

 

Website – National Health Portal 

Leave a Comment

error: Content is protected !!