Nifty: निफ्टी क्या है और Nifty कैसे काम करता है

What is Nifty in Hindi: शेयर मार्केट और स्टॉक मार्केट जैसे प्लेटफार्म के बारे में सुनते है तो उसके साथ एक और शब्द सुनने को मिलत है, जिसे हम Nifty कहते है, अगर आप रोजाना लाइव न्यूज़ व पेपर पढ़ते है तो बड़े बड़े हैडिंग में NIFTY शब्द देखने को मिल जाता है, तो यदि आप शेयर मार्केट में पैसों को इन्वेस्ट करने के बारे में सोच रहे है तो उससे पहले Nifty और SENSEX के बारे में जानना बेहद ही जरुरी है |

सेंसेक्स से सम्बंधित पूरी जानकारी को हमने अपने ब्लॉग पर पहले ही पब्लिश कर दिया है, यदि सेंसेक्स के बारे में पढ़ना चाहते है तो उसक लिए लिंक पर क्लिक कर पोस्ट को पढ़ सकते है | इस पोस्ट में हम Nifty Kya Hai. उससे सम्बंधित A to Z डिटेल्स लेने वाले है |

सबसे पहले हम Nifty 50 Kya Hai. उसके बारे में जान लेते है |

निफ्टी क्या है (What is Nifty in Hindi)

वैसे तो BSE-Sensex और Nifty में ज्यादा कुछ अंतर नहीं है, यदि सेंसेक्स के बारे में जानते है, तो ये भी उसी प्रकार का एक सूचकांक है | Nify बहुत ही प्रचलित शेयर बाजार सूचकांक है, निफ्टी को हमारे देश के सबसे बड़े स्टॉक एक्सचेंज National Stock Exchange (NSE) के द्वारा पेश किया गया है |

निफ्टी नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का प्रमुख बेंचमार्क है, और निफ्टी को दो शब्द को मिलाकर बनाया गया है, पहला है Nifty जिसका अर्थ होता है नेशनल स्टॉक एक्सचेंज और 50. दोनों मिलकर निफ्टी बनते है | यह नेशनल स्टॉक एक्सचेंज के 50 प्रमुख कंपनियों के शेयर को दर्शाता है |

जैसे BSE में कुल 30 प्रमुख कंपनियां है वैसे ही NSE में कुल 50 प्रमुख कंपनियां लिस्टेड है, और इन्ही 50 कंपनियों के शेयर्स में  उतार चढ़ाव पर निफ्टी नजर रखता है, और हमें कंपनियों के परफॉरमेंस रिपोर्ट को प्रदान करता है |

READ  Shyam Metalics IPO: How to Check IPO Allotment Status

National Stock Exchange

Nifty कैसे काम करता है 

सबसे ज्यादा सवाल इसी के बारे में पूछा जाता है, यदि हम इसको आसानी से समझे तो निफ्टी शेयर मार्केट का अभिन्न अंग है यदि आप निफ्टी को अच्छे से समझ लेते है तो शेयर मार्केट में बड़े से बड़े मुकाम को हासिल कर सकते है |

यदि समझे निफ्टी कैसे काम करता है, ये उन 50 कंपनियों के शेयर पर निर्भर करता है जो नेशनल स्टॉक एक्सचेंज में लिस्टेड है |  यदि कंपनी ने कोई प्रोडक्ट को मार्केट में लांच किया है या  इस वर्ष कंपनी में प्रोडक्शन अच्छा हुआ है, जिससे कंपनी को बहुत ज्यादा बेनिफिट हुआ है तब कंपनी के शेयर बढ़ने लगते है, इसी प्रकार से जब NSE में लिस्टेड कपनियों के शेयर बढ़ते है तब Nifty बढ़ने लगता है |

अगर किसी कारण से कंपनी लोस में चली गई है तब कंपनी के शेयर घटने लगते है, उस समय निफ्टी निचे चला जाता है |

तो कुछ इसी प्रकार से NSE में Listed 50 कंपनियों के शेयर में उतार चढ़ाव Performance को निफ्टी प्रदान करता है |

NSE India Official Website

Nifty और Sensex में क्या अंतर है 

भारतीय शेयर बाजार के दो सबसे बड़े सूचकांक Nifty  और Sensex है, लगभग दोनों का काम एक ही परन्तु इसमे कुछ Differences भी देखने को मिलेंगे, हमें ये समझाना होगा, दोनों में क्या अंतर है |

  • Nifty जो की नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का सूचकांक है, जिसे पहली बार 1994 में लाया गया था
  • Nify-50 सूचकांक का विस्तार  भारतीय अर्थव्यवस्था के 12 विभिन्न क्षेत्रों में है
  • निफ्टी नेशनल स्टॉक एक्सचेंज में लिस्टेड 50 प्रमुख कंपनियों के रिपोर्ट को दर्शाता है
  • वही सेंसेक्स बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज में लिस्टेड 30 प्रमुख कंपनियों के परफॉरमेंस को दर्शाता है
  • सेंसेक्स भारतीय शेयर बाजार की सबसे पुराना सूचकांक है जिसको वर्ष 1984 में लाया गया था
  • निफ्टी एनएसइ द्वरा प्रमुख Benchmark Index है
  • निफ्टी ब्लू-चिप कंपनियों के पैटर्न और व्यापक रुझानों का पालन करता है
  • Nifty की Base Value 1000 है तो वही सेंसेक्स की वैल्यू 100 है
  • दोनों ही शेयर बाजार के ताकतवर सूचकांक है
READ  बिहार जाति प्रमाण पत्र आवेदन करें | Bihar Cast Certificate Online Apply, Status

निफ्टी गणना कैसे करती है (How Nifty Calculates)

Nifty भी सेंसेक्स की तरह ही गणना करती है, और इसमे भी गणना Free-Float Market Capitalization के अनुसार की जाती है | परन्तु निफ्टी की गणना सेंसेक्स में की जाने वाली गणना थोड़ी अलग होती है, क्योकि निफ्टी का Base Value 1000 होता है जबकि Sensex का वैल्यू 100 इसलिए हमें Nifty Calculation में थोड़ी असमानताएं देखने को मिलती  है |

  • निफ्टी में गणना करने के लिए Base Value 1000 और Base Year 1995 का उपयोग किया जाता है
  • Nifty Calculation के लिए भारतीय अर्थव्यवस्था के 12 विभिन्न क्षेत्रों का चयन किया जाता है
  • NSE में गणना सूचीबद्ध 50 कंपनियों के शेयर कीमतों पर किया जाता है सूचकांक मूल्य बाजार पूंजीकरण का उपयोग करके गणना की जाती है

Formula – Index Value = Current Market Value / (Base Market Capital * Base Index Value)

सेंसेक्स क्या है 
शेयर मार्केट क्या है 

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज लिस्टेड 50 कपनियों की लिस्ट 

यहाँ आप Current Nifty 50 Stocks Weight-age Companies List  2021 को देख सकते है, उसकी पूरी लिस्ट निचे दी गई है |

कंपनी का नाम क्षेत्र
आईसीआईसीआई बैंक लिमिटेड बैंकों
एचडीएफसी बैंक लिमिटेड। बैंकों
इंफोसिस लिमिटेड सॉफ्टवेयर
आवास विकास फिन. कार्पोरेशन लिमिटेड उपभोक्ता गैर टिकाऊ
रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड पेट्रोलियम उत्पाद
टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज लिमिटेड सॉफ्टवेयर
कोटक महिंद्रा बैंक लिमिटेड बैंकों
हिंदुस्तान यूनिलीवर लिमिटेड उपभोक्ता गैर टिकाऊ
आईटीसी लिमिटेड वित्त
एक्सिस बैंक लिमिटेड बैंकों
लार्सन एंड टुब्रो लिमिटेड निर्माण परियोजना
भारतीय स्टेट बैंक बैंकों
बजाज फाइनेंस लिमिटेड वित्त
एशियन पेंट्स लिमिटेड उपभोक्ता गैर टिकाऊ
भारती एयरटेल लिमिटेड दूरसंचार – सेवाएं
एचसीएल टेक्नोलॉजीज लिमिटेड सॉफ्टवेयर
मारुति सुजुकी इंडिया लिमिटेड ऑटो
टाटा स्टील लिमिटेड फैरस धातुओं
विप्रो लिमिटेड सॉफ्टवेयर
महिंद्रा एंड महिंद्रा लिमिटेड ऑटो
अल्ट्राटेक सीमेंट लिमिटेड सीमेंट और सीमेंट उत्पाद
सन फार्मास्युटिकल इंडस्ट्रीज लिमिटेड दवाइयों
बजाज फिनसर्व लिमिटेड बीमा
जेएसडब्ल्यू स्टील लिमिटेड फैरस धातुओं
टाइटन कंपनी लिमिटेड उपभोक्ता टिकाऊ वस्तुएं
डॉ रेड्डीज लेबोरेटरीज लिमिटेड दवाइयों
नेस्ले इंडिया लिमिटेड उपभोक्ता गैर टिकाऊ
टेक महिंद्रा लिमिटेड सॉफ्टवेयर
हिंडाल्को इंडस्ट्रीज लिमिटेड अलौह धातु
इंडिया लिमिटेड का पावर ग्रिड कॉर्पोरेशन। शक्ति
इंडसइंड बैंक लिमिटेड बैंकों
टाटा मोटर्स लिमिटेड ऑटो
अदानी पोर्ट्स एंड स्पेशल इकोनॉमिक जोन परिवहन
ग्रासिम इंडस्ट्रीज लिमिटेड सीमेंट और सीमेंट उत्पाद
एचडीएफसी लाइफ इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड बीमा
बजाज ऑटो लिमिटेड ऑटो
डिविस लेबोरेटरीज लिमिटेड दवाइयों
एनटीपीसी लिमिटेड शक्ति
सिप्ला लिमिटेड दवाइयों
यूपीएल लिमिटेड कीटनाशकों
भारत पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड पेट्रोलियम उत्पाद
तेल और प्राकृतिक गैस निगम लिमिटेड तेल
ब्रिटानिया इंडस्ट्रीज लिमिटेड उपभोक्ता गैर टिकाऊ
टाटा कंज्यूमर प्रोडक्ट्स लिमिटेड उपभोक्ता गैर टिकाऊ
हीरो मोटोकॉर्प लिमिटेड ऑटो
एसबीआई लाइफ इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड बीमा
आयशर मोटर्स लिमिटेड ऑटो
श्री सीमेंट लिमिटेड सीमेंट और सीमेंट उत्पाद
कोल इंडिया लिमिटेड खनिज/खनन
इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन लिमिटेड पेट्रोलियम उत्पाद
READ  B.E और B.TECH में क्या अंतर है? | B.E and B.Tech in Hindi

Mutual Fund क्या हैं, क्या हमें निवेश करना चाहिए

Nifty Historical Data कैसे देखें 

यदि आप Nifty Historical Data को देखना चाहते है, उसे आप ऑनलाइन देख सकते है, और निफ्टी के अप और डाउन को एनालाइज कर सकते है | निफ्टी हिस्टोरिकल डाटा में आपको पुरे 365 दिनों का शेयर्स की परफॉरमेंस दिख जाता है |

वैसे तो इन्टरनेट पर बहुत सारे साईट मौजूद है, जहाँ से आप Nifty Historical डाटा को देख सकते है, परन्तु यहाँ कुछ साईट के नाम दिए गए है, जहाँ से आप निफ्टी के परफॉरमेंस को देख सकते है व पूरी तरह से एनालाइज भी कर सकते है |

  • Nifty के Historical Data को देखने के लिए हमें सबसे पहले www1.nseindia.com के अधिकारिक वेबसाइट पर जाना है
  • इसके बाद NSE Fifty के अन्दर जिस तारीख से जिस तारीख तक एक Historical Data को देखना चाहते है उसको सेलेक्ट करना है |
  • इसके बाद आपके सामने पूरी डाटा और परफॉरमेंस ओपन हो जाएगी

इन सभी के अलवा इन्टरनेट पर बहुत सारी वेबसाइट मौजूद है जो आपको Nifty की परफॉरमेंस को दिखाती है |

हमने सिखा 

Nifty Kya Hai.  अभी तक तो आप समझ ही चुके होंगे, यदि आप नेशनल स्टॉक एक्सचेंज के बारे में और भी ज्यादा जानकारी लेना चाहते है तो अधिकारिक वेबसाइट पर विजिट कर सकते है,  यदि आलवा यदि आपका कोई सवाल है तो उसे कमेंट के माध्यम से पूछ सकते है |

NSE में कितनी कंपनियां लिस्टेड है?

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज में 1600 से भी अधिक कंपनियां लिस्टेड है, वही बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज की बात की जाये तो उसमे 5000 से भी अधिक कंपनियां लिस्टेड है जबकि दोनों एक्सचेंजों के बीच कई सामान्य स्टॉक हैं।

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का मुख्यालय कहाँ स्थित है?

NSE का मुख्यालय मुंबई में स्थित है और यह भारत का सबसे बड़ा स्टॉक एक्सचेंज है |

भारत में नेशनल स्टॉक एक्सचेंज की स्थापना कब हुई थी?

तो भारत में पहली बार नेशनल स्टॉक एक्सचेंज की स्थापना 1992 की गई थी, और आज यह दुनियां की तीसरी सबसे बड़ी स्टॉक एक्सचेंज है |

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज के अध्यक्ष कौन है?

श्री अशोक चावला एनएसई के निदेशक मंडल के अध्यक्ष हैं

Rating