Mutual Fund क्या हैं, क्या हमें निवेश करना चाहिए

Mutual Fund Kya Hai. यदि आप इसके बारे में जानना चाहते है तो आप सही जगह पर आए है, आज के समय में आप यदि Mutual Fund में इन्वेस्ट करना चाहते हैं तो आपको म्यूच्यूअल फण्ड के बारे में जानना जरुरी हैं | बहुत सारे लोग है जिन्हें म्यूच्यूअल फण्ड के बारे में पता है परन्तु अभी भी बहुत सारे ऐसे लोग है जिन्हें Mutual Fund के बारे में सही जानकारी नहीं हैं |

हम इस पोस्ट में म्यूच्यूअल फण्ड के बारे में जानेंगे ही साथ ही हम म्यूच्यूअल फण्ड के क्या फायदें  है उसके बारे में भी पूरी डिटेल में समझेंगे | आपको ये भी जानना जरुरी है म्यूच्यूअल फण्ड के अलग अलग प्रकार होते है |

निवेस के बारे में सोच रहे है तो आज का पोस्ट आपके लिए बहुत ही जरुरी हैं, तो चलिए सबसे पहले जानते हैं, Mutual Fund क्या हैं |

विषय - सूची

म्यूच्यूअल फण्ड क्या है (What is Mutual Fund)

तो आज के समय में निवेस के माध्यम से पैसा कमाना चाहते हैं तो म्यूच्यूअल फण्ड बहुत ही अच्छा विकल्प है, जिसके माध्यम से हम अपने छोटी से छोटी रकम को इन्वेस्ट कर अच्छा रिटर्न पा सकते हैं | म्यूच्यूअल फण्ड में इन्वेस्ट करने से पहले आपको Mutual Fund के बारे में पूरी तरह से जानना इसलिए जरुरी है, क्योकि हमें अपने पैसों को इन्वेस्ट करने से पहले Mutual Fund में Invest कैसे करते हैं, उसके बारे में जानना चाहिए |

बहुत सारे लोग है जिन्हें म्यूच्यूअल फण्ड के बारे में गलत जानकारी होने के कारन उसका फायेदा नहीं उठा पाते है परन्तु म्यूच्यूअल फण्ड एक ऐसी स्कीम में है जहाँ आप अपने पैसे की सेविंग के साथ अच्छी रिटर्न भी पा सकते हैं | आपलोगों ने कई बार सुना है म्यूच्यूअल फण्ड में रिस्क है, तो ये भी जानेंगे आखिर म्यूच्यूअल फण्ड में इन्वेस्ट करने पर किस प्रकार के जोखिम हो सकता हैं |

Mutual Funds kya hai

Mutual Fund Details

यदि हम इसके सही मायने को समझे तो Mutual Fund में बहुत सारे निवेशकों की पैसा को एक साथ जमा किया जाता है, उसके बाद ज्यादा से ज्यादा मुनाफा अर्जित करने के लिए थोड-थोडा करके कई कंपनियों के फण्ड में इन्वेस्ट किया जाता है , जिससे जो व्यक्ति अपना पैसा निवेस करता है, उसको बहुत ही कम समय में अच्छा रिटर्न मिलाता है और साथ ही पैसा डूबने का भी रिश्क नहीं होता हैं |

यदि हम इसको और भी सरल भाषा में समझे तो बहुत सारे निवेशकों के पैसा को जब निवेस करने के लिए एक साथ जमा किया जाता है तो उसे म्यूच्यूअल फण्ड कहा जाता हैं, और उस पैसे को प्रोफेशनल Fund Manager के द्वारा अलग अलग निवेश किया जाता है, और कोशिश किया जाता है पैसा से ज्यादा से ज्यादा मुनाफा कमाया जायें |

प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन पेंशन योजना

म्यूच्यूअल फण्ड में क्यों निवेस करना चाहिए 

मुझे लगता है ये सवाल सभी के मन में जरुर होगा, की हमें आखिर म्यूच्यूअल फण्ड में पैसों को क्यों इन्वेस्ट करना चाहिए, आखिर कौन से वो मुख्य कारण है जिसके चलते है हमें म्यूच्यूअल फण्ड में पैसे इन्वेस्ट करना के अच्छा विकल्प हैं |

म्यूच्यूअल फण्ड में लगाये पैसे को हम आसानी से मैनेज कर सकते हैं, इसके अलवा जब हम म्यूच्यूअल फण्ड में पैसे को इन्वेस्ट करते है तब उस पैसे को Professional Fund Manager के द्वारा मैनेज किया जाता है, इसमे हमें कुछ भी करने की आवश्यकता नहीं पड़ती हैं |

हमें म्यूच्यूअल फण्ड में कम निवेस पर अलग अलग स्टॉक और बांड की सुविधा मिलता है, निवेशक जिस भी म्यूच्यूअल फण्ड में अपना पैसा इन्वेस्ट करता है, उस पैसे को एक जगह निवेस नहीं किया जाता है बल्कि फण्ड मेनेजर के द्वारा अलग-अलग जगहों पर निवेस किया जाता है, जिससे निवेशक को आच्छा रिटर्न मिल सकें |

हमें इन्वेस्ट पर ज्यादा फीस नहीं देने होते है, आमतौर पर निवेस का खर्चा 1.5% से 2.5% होता है, ऐसा इसलिए होता है क्योकि म्यूच्यूअल फण्ड में एक साथ कई लोगों का पैसा इन्वेस्ट किया जाता है, और सभी लोगों को निवेश पर खर्च लिया जाता है | ये पैसा फण्ड मेनेजर कंपनियों के द्वारा आपके पैसा निवेश करने के लिए लिया जाता है |

हमें म्यूच्यूअल फण्ड में पैसा निवेश करने के लिए कहीं भी जाने की आवश्यकता नहीं होती है, हम अपने फ़ोन या कंप्यूटर से म्यूच्यूअल फण्ड में निवेस कर सकते हैं, और इसके लिए हमें Demat Account की भी आवश्यकता नहीं पड़ती हैं | आज मार्केट में बहुत सारे ऐसे ऑनलाइन प्लेटफार्म मौजूद है, जहाँ मात्र कुछ ही समय में अपने पैसे को Mutual Fund में Invest कर सकते हैं |

म्यूच्यूअल फण्ड के फयेदें (Benefits of Mutual Fund)

आज भी लोग जिन्हें म्यूच्यूअल फण्ड के बारे में जानकारी नहीं है, उन्हें म्यूच्यूअल फण्ड डरवाना और समझ से बाहर लगता हैं, परन्तु हम उसके कुछ जरुरी फायेदे के बारे में बात करने वाले है, जिसके बारे में आप सभी को जानना बहुत ही जरुरी हैं |

जब हम म्यूच्यूअल फण्ड में अपने पैसे को निवेस करते है, तब उस पैसे को बहुत सारे निवेशकों के पैसे के साथ इन्वेस्ट किया जाता हैं, पैसे को इन्वेस्ट करने की प्रक्रिया को Professional Fund Manager के द्वारा किया जाता है, हमारे पैसे को एक जगह इन्वेस्ट न करके इक्विटी, बांड, मुद्रा बाज़ार  और अन्य सिक्योरिटीज में Invest किये जाते हैं |

छोटी रकम निवेस कर सकते है (Minimum Invest)

हम अपने अनुसार कम से कम राशी को इन्वेस्ट कर सकते है, इसकी सुविधा म्यूच्यूअल फण्ड निवेशकों के द्वारा दिया जाता है, यदि कोई शुरू में म्यूच्यूअल फण्ड में निवेस करना चाहता है तो वह मात्र 100 रु इन्वेस्ट कर सकता है |  निवेश को विभिन्न प्रकार के निवेशकी सुविधा दी जाती है |

सुविधा 

हमें अपने फण्ड को आसानी निवेस करने की सुविधा दी जाती है, उतनी ही आसानी से हम म्यूच्यूअल फण्ड में इन्वेस्ट किये गए पैसे को जब चाहे तब निकाल भी सकते हैं, इसके अलावा हमें  निवेश करने और फण्ड को ट्रैक करने के लिए इंटरफ़ेस मिलता है, जिसके माध्यम से निवेश से पहले हम म्यूच्यूअल फण्ड के ग्रोथ और रिश्क को भी Analyze कर सकते हैं |

टैक्स में छूट (Tax Benefits)

म्यूच्यूअल फण्ड की एक और विशेषता है, की हमें म्यूच्यूअल फण्ड के खरीद पर किसी भी प्रकार के टैक्स नहीं देने होते हैं, जबकि आप कहीं और इन्वेस्ट करते हैं तो वहां में टैक्स देने पड़ते हैं | इसके अलवा बहुत सारे म्यूच्यूअल फण्ड स्कीम ऐसे है जहाँ हमें टैक्स पर पूरी तरह से छुट मिलता है, यानि की जितना भी धन  म्यूच्यूअल फण्ड पर अर्जित करते हैं, उसपर किसी भी प्रकार के टैक्स नहीं लगते है |

यदि आप Mutual Fund में Tax Saving Scheme पर इन्वेस्ट करना चाहते हैं, तो उसके लिए इक्विटी लिंक्ड सेविंग्स स्कीम (Equity Linked Savings Scheme) में इन्वेस्ट कर सकते हैं, इन स्कीमों में 1.5 लाख तक के इन्वेस्ट पर Tax की छुट मिलती हैं |

सुरक्षित निवेश (Safe Investment)

ये बहुत बड़ा फायेदा है, जो की Mutual Funds  को और भी ज्यादा लोकप्रिय बनाता है, हम म्यूच्यूअल फण्ड में जो भी निवेस करते है, वो सुरक्षित होता है, क्योकि म्यूच्यूअल फण्ड की पूरी देखरेख (SEBI) भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड के द्वारा नियंत्रिक किया जाता है | इसके अलवा SEBI के द्वारा ही म्यूच्यूअल फण्ड की परफॉरमेंस की पूरी जानकारी जैसे फण्ड, की ग्रोथ, डाउन, प्राइज, इत्यादी की पूरी जानकारी लोगों के साथ समय पर शेयर करती हैं |

म्यूच्यूअल फण्ड के प्रकार (Types of Mutual Funds)

यदि पहली बार निवेश करना चाहते हैं, तो उससे पहले Mutual Fund के Types के बारे में जानकारी होनी आवश्यक है, और ये भी जानना जरुरी हैं, की हमें किस Mutual Funds में Invest करना चाहिए है |

mutual Fund 2
Mutual Fund types

1.इक्विटी या ग्रोथ फंड्स (Equity or Growth Fund)

इस फण्ड में अधिकांश रूप से कंपनियों के फण्ड में इन्वेस्ट किया जाता है, और इस प्रकार के फण्ड में अच्छी लाभ मिलने की बहुत ही ज्यादा संभावना होता हैं, यदि आप लॉन्ग टर्म प्लान में इन्वेस्ट करना चाहते हैं तो आपके लिए सबसे अच्छा विकल्प साबित हो सकता हैं जैसे लार्ज कैप, मिड कैप, स्माल कैप, मल्टी कैप इत्यादी |

2.आय और बॉन्ड / नियत आय फंड

  • ये नियत आय प्रतिभूतियों जैसेGovernment securities or bonds, commercial paper or debentures, bank certificates of deposit and treasury bills, commercial papers जैसे मनी मार्केट Instruments में निवेश करते हैं। ये तुलनात्मक रूप से सुरक्षित निवेश होते हैं और आय निर्माण के लिहाज से उपयुक्त होते हैं।
  • लिक्विड, लघु अवधि, फ्लोटिंग दर, कारपोरेट ऋण, डायनामिक बॉन्ड, गिफ्ट फंड आदि उदाहरण हो सकते हैं।(Liquids, short-term, floating rates, corporate loans, dynamic bonds, gift funds, etc. can be examples.)

3.हाइब्रिड फण्ड क्या है (Hybrid Mutual fund)

यह एक ऐसा फण्ड होता है, जिसमे एक से ज्यादा एसेट में निवेश किया जाता है, इस फण्ड को हम संतुलित फण्ड भी कह सकते हैं, इस प्रकार से ये वृद्धि संभावनाओं के साथ-साथ आय निर्माण का सर्वश्रेष्ठ प्रदान करते हैं

पीएम उदय योजना ऑनलाइन आवेदन 

म्यूच्यूअल फण्ड कैसे चुनें (How to choose right Mutual fund)

ये सबसे जरुरी मुद्दा है, की हम कैसे सही म्यूच्यूअल फण्ड को चुने, और उसमे इन्वेस्ट करें, क्योकि जब हम Mutual Fund में इन्वेस्ट करने जाते है तो वहां  बहुत सारे विकल्प मौजूद होते है, परन्तु जरुरी बातों को ध्यान रख कर अपने लिए जरुरी सही म्यूच्यूअल फण्ड का चयन कर सकते हैं |

सबसे पहले तो आपको Mutual Fund के टाइप का चयन करना होगा, जैसे यदि आप ज्यादा लोखिम लेने के लिए तैयार है तो अमौर पर आपको Equity Fund को चुनना चाहिए, जिसकी अवधी पांच वर्ष से ज्यादा हो | इसके आलवा यदि आप ज्यादा रिश्क लेने के लिए तैयार है तो Hybrid Mutual Fund को भी चुन सकते हैं |

आप इन्वेस्टमेंट करते समय ज्यादा रिश्क नही लेना चाहते हैं तो उस स्तिथि में आप डेट फण्ड का चयन कर सकते हैं, परन्तु ध्यान रहे, इसमे भी आपको थोडा बहुत जोखिम उठाना ही पड़ेगा, किसी भी प्रकार के म्यूच्यूअल फण्ड में यदि आप अच्छा रिटर्न पाना चाहते है तो आपको थोडा बहुत जोखिम तो उठाना ही पड़ेगा |

इन बातों का भी विशेष ध्यान दें 

अपने लिए म्यूच्यूअल फण्ड का चयन करने से पहले आपको Fund Manager के अनुभव पर भी विशेष करके ध्यान देना हैं, जैसे फण्ड मैनेज करने वाली कंपनी कब से फण्ड मैनेज कर रही है, उसको अनुभव कितना है, साथ ही उसका ट्रैक रिकॉर्ड भी चेक कर सकते हैं |

आपको ये भी देखना जरुरी है, आप जिस फण्ड में निवेश करना चाहते है, वो आपके पैसे को किस क्षेत्र में निवेश कर रहा हैं, क्या वह आपके पैसे को इक्विटी फण्ड में इन्वेस्ट कर रहा है या डेड फण्ड में, इन सभी का ध्यान दे, उसके बाद ही इन्वेस्ट करें |

म्यूच्यूअल फण्ड में निवेश कैसे करें | (How to Invest in Mutual Fund)

आज के समय में बहुत सारे ऐसे Platफॉर्म है जहाँ से आप सिर्फ KYC के माध्यम से इन्वेस्ट कर सकते है, जो की सभी ऑनलाइन है, इसलिए हमें कहीं भी जाने की आवश्यकता नहीं हैं | परन्तु ध्यान रहे अपने पैसो को इन्वेस्ट करने से पहले ये जरुर चेक कर  ले आप जहाँ अपने पैसों को इन्वेस्ट कर रहे है वो प्लेटफार्म Trusted हैं |

mutual Fund 4

अगर आप इन्वेस्ट करना चाहते हैं, तो दो ऐसे प्लेटफार्म है जिसका इस्तेमाल मैं खुद करता हूँ, अपने पैसे को इन्वेस्ट करने के लिए,

  • इन दोनों प्लेटफार्म पर Invest करने के लिए सबसे पहले आपको अपना अकाउंट बनना होगा
  • इसके बाद अपने KYC को पूरा करना है
  • बैंक अकाउंट को जोड़ना है
  • इसके बाद से इन्वेस्टमेंट शुरू कर सकते हैं |

किसान क्रेडिट कार्ड

योग्यता क्या होनी चाहियें 

इन्वेस्ट करने के लिए ज्यादा कुछ योग्यता की आवश्यकता नहीं हैं, कोई भी व्यक्ति Mutual Fund में Invest कर सकता हैं, चाहे वो भारत से या किसी और देश से | इन सभी के अलावा आप अपने बच्चे के नाम पर भी इन्वेस्ट कर सकते हैं परन्तु इसके लिए अपने बच्चे के साथ अपनी भी डिटेल देनी होगी | और जब तक आपके बच्चे का आयु 18 वर्ष तक नहीं हो जाता है, तब तक अकाउंट को आपको मैनेज करना होता है |

इन्वेस्ट करने से पहले जरुरी बातें 

तो जैसे की अभी तक हमने जाना है, Mutual Fund में Investment करने से पहले हमें उसके बारे में पूरी जानकारी होनी जूरी है, सबसे जरुरी पॉइंट, म्यूच्यूअल फण्ड में सिर्फ उन्हीं लोगों को इन्वेस्ट करना चाहते हैं, जो रिश्क लेने के लिए तैयार हैं, क्योकि म्यूच्यूअल फण्ड में अगर रिश्क है तो फायेदा भी है | आज मार्केट में बहुत सारी म्यूच्यूअल फण्ड कंपनियां है जो की सर्विस प्रोवाइड करती है परन्तु आपको उन्ही कंपनियों में इवेस्ट करना है जो Trusted है |

म्यूच्यूअल फण्ड FAQs

उम्मीद है आपको Mutual Fund Kya Hai. समझ में आ गया होगा, यदि कोई सवाल है तो निचे कमेंट करना न भूले है, हमें फॉलो करें

मैं कितने पैसों से इन्वेस्टमेंट शुरू कर सकता हूँ?

अगर अप म्यूच्यूअल फण्ड में इन्वेस्टमेंट करना चाहते हैं, तो रु500 से Investment शुरू कर सकते हैं |

इक्विटी म्यूचुअल फंड क्या है

इक्विटी फण्ड, म्यूच्यूअल फण्ड की वह स्कीम है जो खास कर के शेयर्स और कंपनी के स्टॉक में इन्वेस्ट करती हैं, इसमे रिश्क ज्यादा होता है, परन्तु अच्छे रिटर्न भी मिलते हैं |

म्यूच्यूअल फण्ड कितने प्रकार के होते हैं?

आवश्यकता के अनुसार म्यूच्यूअल फण्ड विभिन्न प्रकार है, परन्तु मुख्य तौर पर तिन प्रकार के होते हैं |
1.इक्विटी या ग्रोथ फंड्स (Equity or Growth Fund)
2.आय और बॉन्ड / नियत आय फंड
3.हाइब्रिड फण्ड  (Hybrid Mutual fund)

Leave a Comment