आत्मनिर्भर भारत अभियान | Atmanirbhar Bharat Yojana पूरी जानकारी हिंदी में

इस समय हम भारत सरकार की सबसे बड़ी योजना atmaNirbhar Bharat Yojana के बारे में जानने वाले है तो अगर आप भी इस टॉपिक पर पूरी जानकारी हिंदी में जानना चाहते है तो इस post को बहुत ही ध्यान से और पूरा पढ़िए | तो हम सभी जानते है इस साल कोरोना वायरस के कारण पूरी दुनियाँ में एक प्रकार की महामारी फैली हुयी है |

Covid-19 यानि कोरोना वायरस से भारत में काफी ज्यादा नुकसान हुआ है जिसके करना पुरे भारत में कुछ दिनों के लिए लॉकडाउन लगा दिया गया था,  पुरे देश में लगे लॉक डाउन कारण भारत में काफी ज्यादा नुकसान हुआ है जिसके चलते भारत की आर्थिक इस्तिथि भी काफी निचे आ गयी है | 

भारत में हुए नुकसान को पूरा करने एक लिए भारत सरकार ने एक योजना को लांच किया है जिसका नाम है Atmanirbhar Yojana जो की इस पोस्ट के माध्यम से हम जानने वाले है |

आत्मनिर्भर भारत अभियान योजना के तिन चरण में लांच किया गया है आज से कुछ ही समय पहले सरकार ने पहली चरण में आत्मनिर्भर भारत अभियान 1.0 को लांच किया था और पहली चरण में मिली सफलता के बाद सरकार ने अभी तक आत्मनिर्भर भारत अभियान 2.0 और आत्मनिर्भर भारत अभियान 3.0 को लांच कर चुकी है |

इस post में हम भारत  सरकार के इस योजना के बारे में पूरी जानकारी लेने वाले है | तो इसके बारे में विस्तारपूर्वक जानते है |

 

 

आत्मनिर्भर भारत अभियान क्या है |

तो सबसे पहले हम आत्मनिर्भर भारत अभियान के बारे में और भी डिटेल में जानते है | भारत के प्रधान मंत्री श्री नरेद्र मोदी के द्वारा कोरोना वायरस के दौर में भारत की गिरती हुई अर्थव्यवस्था  को सुधारने के लिए 20 लाख करोड़ के राहत पैकेज का ऐलान किया था जिसको आत्मनिर्भर योजना का नाम दिया गया है | अभी तक इससे पहले आत्मनिर्भर भारत अभियान के दो चरण लांच हो चुके है |

 

योजना का उदेश्य है कोरोना वायरस के कारण जिन लोगो का कामकाज में नुकसान हुआ है उन्हें फिर से अपने कामकाज को शुरू करने के लिए इस योजना से मदद मिलेगी, साथ ही अब भारत अपने जरुरी के कुछ सामानों को खुद ही बनाने पर भी जोर दिया है जिससे भारत की आत्म निर्भरता बढ़ेगी और भारत को अपने जरुरी सामानों को किसी भी दुसरे देश से निर्यात नहीं करना पड़ेगा, जिससे भारत की आर्थिक इस्तिथि और भी ज्यादा मजबूत होगी |

 

अधिकारिक वेबसाइट 

aatmanirbharbharat.mygov.in

 

atmanirbhar Bharat Yojana

पीएम मोदी का ऐलान | Atmanirbhar Bharat Yojana

कुछ समय पहले यानि 15 अगस्त के दिन प्रधानमंत्री श्री नरेद्र मोदी जी ने पुरे भारत को संबोधित करते हुए लगभग 1:30 घंटे लम्बे भाषण में 3 महत्वपूर्ण 4 विषयों पर सबसे ज्यादा फोकस किया जिसके बारे में हम जानेंगे |

मोदी जी के द्वारा 4 साबसे महत्वपूर्ण विषयों में से सबसे पहला वो था आत्मनिर्भर भारत जिसके ऊपर आज का हमारा पूरा टॉपिक है और दूसरा विषय था  वोकल फॉर लोकल (Vocal For Local), तीसरा विषय था Make in India to Make For World, इसका मतलब ये हुआ पहले तो हम Make in India कर रहे थे लेकिन अब हम दुनियाँ के लिए भी उत्पादन अपने देश में करेंगे |

यदि हम आत्मनिर्भर भारत जो शब्द है इसका अर्थ समझे तो इसका पूरा उदेश्य है स्वदेशी उत्पादों का बढ़ावा देना और जो जरुरी सामान हम दुसरे देशों से निर्यात करते थे उसका उत्पादन खुद अपने देश में करना |

 

 

आत्मनिर्भर भारत के स्तम्भ

जब प्रधानमंत्री आत्मनिर्भर भारत योजना के बारे में अपने संबोधन में बताया तब उन्होंने आत्मनिर्भर भारत के इस अभियान को लागु करने में 5 स्तम्भ के भूमिका पर जोर  दिया, यानि आत्मनिर्भर भारत के 5 अस्ताम्भों के बारे में बताया गया | तो चलिए हम जान लेते है आत्मनिर्भर भारत के वो 5 स्तम्भों के बारे में |

  1. Economy
  2. Infrastructure
  3. System
  4. Demography
  5. Demand

जैसे की आप देख ही सकते है यही वो 5 स्तम्भ है जिसके बारे में हम जानने वाले है | हम सबसे पहले एक-एक करके इन सभी के बारे में जान लेते है |

Economy (अर्थव्यवस्था) – Modi ji का कहना है जो हमारा अर्थ व्यवस्था है वो इंक्रिमेंटल जम्प न करके बल्कि उची छलांग (क्वांटम जंप) करें |

Infrastructure (आधारिक संरचना) देश के संबोधन  के दौरान मोदी जी का दूसरा शब्द था जिसपर उन्होंने ज्यादा जोर दिया वो है बुनियादी ढांचा यानि Infrastructure | प्रधानमंत्री मोदी का कहना है Modern Insfrasture होनी चाहिए यानि एक ऐसा टेक्नोलॉजी होना चाहिए, जो मॉडर्न टेक्नोलॉजी पर आधारित हो | यदि हमारा बुनियादी ढांचा मॉडर्न होगा वो हमारे देश के अर्थव्यवस्था को और भी ज्यादा मजूबत करेगा जिससे हमारे देश के Economy में क्वांटम जंप होगी |

System (प्रौद्योगिकी) – मोदी जी ने जो तीसरा शब्द का प्रयोग किया, व्यवस्था (System),  एक ऐसा सिस्टम, जिसमें आधुनिक तकनीक को अपनाने और समाज में डिजिटल तकनीक का उपयोग बढ़ाना शामिल है | इस लक्ष्य को पूरा करने के लिए सरकार ने आज से पहले बहुत सारे डिजिटल कामों पर जोर दिया है जैसे जनधन अकाउंट खोले गए और उसे आधार कार्ड के साथ लिंक किया गया और साथ में उस व्यक्ति के मोबाइल नंबर को भी लिंक किया गया, जिससे सरकार की तरफ से मिलने वाली आर्थिक सहयता सीधे व्यक्ति के बैंक अकाउंट में पहुच जाये और मोबाइल नंबर की हेल्प से व्यक्ति को सूचना भी मिल जायें |

अगर आप इसपे ध्यान देंगे तो देखेंगे, पूरा काम तकनीक आधारित व्यवस्था है |

 

Demography (जनसांख्यिकी) – एक ऐसी व्यवस्था जिसमे युवा वर्ग की संख्या ज्यादा हो और भारत देश में कुल आबादी में से सबसे ज्यादा संख्या युवा वर्ग के लोगों की है | भारत की जीवन्त जनसांख्यिकी हमारी ताकत है और पूरी दुनियाँ  ने भी माना है हमारी अर्थव्यवस्था में ग्रोथ की संभावना ज्यादा है | 

 

Demand (मांग) –   पंचों सतम्भ में से जो सबसे आखरी सतम्भ जिसके बारे में मोदी जी ने अपने भाषण में जिक्र किया था वो है डिमांड यानि मांग | भारत के पास बहुत ही बड़ा घरेलु बाजार और मांग है और इसे पूरी ताकत से इस्तेमाल किए जाने की आवश्यकता है | 

ये सभी पांचो के पांचो अस्तम्भ आपस में जुड़े हुए है |

 

 

उत्तर प्रदेश भुलेख ऑनलाइन भूमि विवरण देखें

 

आत्मनिर्भर भारत अभियान के उदेश्य

 आत्मनिर्भर अभियान के मुख्य उदेश्य है चलिए सबसे पहले हम इसके बारे में चर्चा कर लेते है | तो प्रधानमंत्री मोदी ने बताया, आखिर हम आत्मनिर्भर भारत अभियान को क्यों शुरू कर रहे है | यदि हम इसका सबसे मुख्य उदेश्य देखे तो कोरोना वायरस के कारण पुरे भारत में लॉकडाउन था जिससे लोग अपने घरों से बहार नहीं निकल रहे थे और सभी प्रकार के बाजार बंद थे और साथ ही बड़ी बड़ी कंपनियां भी बंद थी जिससे Manufacturing भी बंद थी इसका सीधा प्रभाव देश के नागरिक के ऊपर पड़ा है| क्योकि Manufacturing बंद होने के कारण लेबर अपने अपने घर चले गए है, जिससे सप्लाई रुक गई है | इसलिए आत्मनिर्भर भारत का सीधा उदेश्य है सप्लाई चैन को फिर से सुरु करना और भारत के अर्थव्यवस्था को दुबारा से पटरी पर लाना |

प्रधानमंत्री मोदी ने कृषि शेत्र को सुधारने की बात कही है, क्योकि भारत में किसी भी प्रकार की समस्या आती है तो सबसे पहले किसानों को भुगतना पड़ता है | चुकी किसानों का इनकम सोर्स बहुत ही सिमित है इसलिए किसानो को इस अभियान के केंद्र में रखा गया हैं |

 

 

MSMEs के तहत की गई घोषणा

जैसे की हम सभी जानते पीएम मोदी ने आज से कुछ ही दिनों पहले ही 20 लाख करोंड़ की पैकेज जारी किया था | प्रधानमंत्री जी के द्वारा जारी पैकेट को इम्पलीमेंट करते हुए वित् मंत्री निर्मला सीतारमन ने ने MSMEs के लिए एक पैकेज जारी किया | तो चलिए हम उन सभी पैकेज के बारे में एक-एक करके जानते है |

 

1. प्रधानमंत्री गरीब कल्याण पैकेज

Atmnirbhar Bharat Abhiyan MSMEs के तहत जो पहला पैकेज जारी किया गया है उसमे से सबसे पहला पैकेज है, प्रधानमंत्री गरीब कल्याण पैकेज, इस पैकेज के तहत 1.७ लाख करोंड़ की राहत पैकेज की घोषणा की गई है, जिससे जितने भी गरीब परिवार जो कोरोना वायरस के कारण उनकी आर्थिक इस्तिथि ख़राब हो गई है उन्हें ये सभी सुविधा दी जाएगी |

  • सभी हेल्थ वर्कर की 50 लाख की मुफ्त जीवन बिमा कवर जी जाएगी |
  • 20 करोंड़ से भी ज्यादा ऐसे महिलाएं जिनके पास प्रधानमंत्री जन धन अकाउंट है उनके खाते में हर महीने 500 रु भेजे जायेंगे |
  • तिन महीनों के लिए 8 करोंड़ से  भी ज्यादा गरीब परिवारों को मुफ्त में गैस सिलिंडर दिए जायेंगे |
  • लाभ के लिए प्रति दिन 182 रुपये से मनरेगा मजदूरी में 202 रुपये की वृद्धि
    13.62 करोड़ परिवार को दिए जायेंगे |
  • 1,000रु से 3 करोड़ के गरीब वरिष्ठ नागरिक, गरीब विधवा
    और गरीब दिव्यांग

 

 

2. प्रधानमंत्री गरीब कल्याण पैकेज

  • NABARD, SIDBI के लिए की घोषणा की विशेष पुनर्वित्त सुविधा और पालिसी रेपो रेट में ₹ 50,000 करोड़ रुपए की कुल राशि के लिए NHB.
  • म्युचुअल फंड के लिए 50,000 करोड़ की विशेष लिक्विडिटी सुविधा (एसएलएफ) खोलने की घोषणा की, ताकि तेजी से बढ़ रहे जोखिम को कम किया जा सके.
  • किश्तों के भुगतान पर तीन महीने की मोहलत और सभी के संबंध में कार्यशील पूंजी सुविधाओं पर ब्याज का भुगतान
    सावधि ऋण
  • मार्जिन को कम करके कार्यशील पूंजी वित्त पोषण की ढील
  • वाणिज्यिक रियल एस्टेट सेक्टर के लिए एनबीएफसी द्वारा ऋण, के लिए अतिरिक्त
    तिथि के विस्तार के लिए एक वर्ष का समय दिया गया है वाणिज्यिक परिचालन (डीसीसीओ) के लिए शुरुआत.

 

 

पढ़ई तुंहर दुआर पोर्टल

 

प्रधानमंत्री मोदी का विजन

  • आत्मनिर्भर भारत अभियान या स्व-विश्वसनीय भारत आंदोलन 
  • आत्मनिर्भर  भारत के पांच स्तंभ – अर्थव्यवस्था, आधारभूत संरचना,
    सिस्टम, वाइब्रेंट डेमोग्राफी और डिमांड
  • 20 लाख करोड़ रुपये का एक विशेष आर्थिक और व्यापक पैकेज – भारत के जीडीपी के 10% के बराबर
  • • कुटीर उद्योग सहित विभिन्न वर्गों को पूरा करने के लिए पैकेज, MSMEs, laborer’s, middle class, industries, among others. 
  • Bold reforms across sectors will drive the country’s push towards
    self-reliance.
  • यह समय Vocal For Local Product का है

 

 

इस पाठ में हमने सिखा हैं

आज हमलोगों ने इस पाठ के माध्यम से Atmnirbhar Bharat Abhiyan Kya Hai. इसके बारे में जानने की कोशिश की है | उम्मीद है आपको इस पोस्ट को पढ़ने के बाद आत्मनिर्भर भारत योजना क्या है इसके बारे में समझ आ चूका होगा, यदि आपको अभी भी किसी भी प्रकार का सवाल है तो निचे कमेंट के माध्यम से सवाल को रख सकते है या कोई भी सुझाव दे सकते है |

अभी तक आत्मनिर्भर भारत अभियान के 3 चरण लांच हो चुके है, और हर चरण में आप सभी को सरकार की तरफ से कई सारे योजना भी दी जा रही है |

Atmnirbhar Bharat केंद्र सरकार के द्वारा चलाया गया, एक बहुत ही बढ़िया और लाभदायक योजना है जिसमे हम सभी को योगदान देना चाहिए, जिसमे हम अपने देश को Covid-19 से मुक्त कर सके और साथ ही अपने देश को और भी सक्षम और अपने देश की आर्ताथिक इस्कतिथि को और भी ताकतवर बना सकें |

शेयर करें

Leave a Comment