पीसीएस (PCS) एग्जाम की तैयारी 2021 में कैसे करें | हिंदी गाइड

PCS Exam in Hindi  हर व्यक्ति का  एक सपना होता है की हमें आगे चलकर कुछ न कुछ जरूर करना है। जब हम स्कूल में होते हैं, तभी हम ये सोच लेते है | उसके बाद से हम मेहनत करने में लग जाते है कुछ स्टूडेंट ऐसे भी होते है जो मेहनत तो बहुत ज्यादा करते है बावजूद इसके वो अपने मार्ग पर सही से आगे नहीं बढ़ पाते है ऐसा इसलिए होता है क्योकि उन्हें ये तो पता होता है की हम अपने सपने को पूरा करने के लिए किस राह पर चल रहे।

परन्तु उनको उन्हें ये नहीं पता है उस राह पर चलना कैसे है और अपने सपने को पूरा करने के लिए वो कौन कौन से पॉइंट को तैयार रखना है जिसे आगे समय पर काम आये|

 हम इस हिंदी ब्लॉग के माध्यम से  उन लोगो के लिए पोस्ट को शेयर करते है जो सरकारी नौकरी के लिए तैयारी कर रहे है। या वो अपने  लक्ष्य की  ओर आगे बढ़ने के लिए तैयारी कर रहे है। इसलिए आज का हमारा पोस्ट PCS से सम्बंधित है जिसमे हम PCS के बारे में पूरी डिटेल में जानने की कोशिश करेंगे। और जानेंगे भी।

इस पोस्ट के माध्यम से आपको PCS Exam के बारे में इनफार्मेशन मिल जाएगी। ये पोस्ट उन लोगो के लिए बहुत ज्यादा फायदेमंद होगा जिन्हे Pcs के बारे में थोड़ी भी जानकारी नहीं है।

PCS क्या है PCS in Hindi

तो PCS को हिंदी में “प्रांतीय सिविल सेवा” कहा जाता है। और ये प्रांतीय सिविल सेवा भूमि, राजस्व, वन, कृषि शिक्षा अदि बिषयों से सम्बंधित है और ऐसे हर राज्य के Public Service Commission (PSC) के जरिये जितने भी राज्य है उनके द्वारा
उम्मीदवारों को भरती किया जाता है। PCS को और भी कई नामों से जाना जाता है। जैसे प्रांतीय सिविल सेवा भी कहते है स्टेट सिविल सर्विस भी कहते है

PCS Full Form

  1. Provincial Civil Service
  2. प्रांतीय सिविल सेवा

IAS Officer कैसे बने अब हिंदी में

PCS Exam क्या है

पीसीएस का पूरा नाम होता है Provincial Civil Service और इस एग्जाम को SPSC यानि State Public Service Commission के माध्यम से कंडक्ट कराया जाता है। राज्य में इसके जितने भी पोस्ट होते है उसपर स्टेट गोवेर्मेंट का निंयत्रण होता है उस पोस्ट पर भर्ती करने के लिए SPSC यानि स्टेट गोवेर्मेंट द्वारा इस एग्जाम को कराया जाता है।

जब आप PCS Exam को क्लियर कर लेते है तब आपको कुछ इस प्रकार के पोस्ट पर Offer किया जाता है जैसे SDM, DSP, ARTO, BDO इत्यादि। इन सभी के आलावा भी आपको अलग अलग विभागों में उच्च पद पर नौकरी मिलती है।

परन्तु जब आप किसी भी स्टेट से PCS Exam को क्लियर करके ज्वाइन कर लेते है। उसके बाद आप किसी दूसरे स्टेट में अपना ट्रांसफर नहीं करा सकते है। हर साल लाखों स्टूडेंट PCS Exam के लिए अप्लाई कर एग्जाम अटेंड करते है जिसमे से कुछ ही स्टूडेंट ऐसे होते है जो इस एग्जाम को क्लियर कर पाते है।

pcs Exam in Hindi
pcs Exam in Hindi

Sub-Inspector (दरोगा) Kaise Bane

शैक्षिक योग्यता क्या होनी चाहिए

अब तक तो हमने ये समझ लिया है की PCS Exam क्या होता है अब हम पीसीएस एग्जाम के लिए शैक्षिक योग्यता क्या होनी चाहिए इसके बारे में जानेंगे। तो पीसीएस एग्जाम देने से पहले आपको किसी भी Reputed University से Bachelor Graduation की डिग्री होनी जरुरी है। बिना Bachelor डिग्री आप इस एग्जाम को अटेंड नहीं कर सकते है।

  • Bachelor Degree any Reputed University 

आयु लिमिट

इन सभी के अलावा इस एग्जाम को देने के Age  लिमिट भी होती है अभ्यर्थी की आयु न्यूनतम 21 वर्ष और अधिकतम 40 वर्ष होनी चाहिए। और जो भी आरक्षित वर्ग के लोग है जैसे SC/ST/OBC उन सभी के लिए उम्र छूट प्रदान की जाती है।

  • Age Criteria 21-40

शारीरिक लिमिटेशन

पीसीएस पोस्ट के लिए शारीरिक मापदंड की  भी आवश्यकता होती है जैसे कुछ ऐसे स्पेशल पोस्ट होता है जो  PCS के अंतर्गत जिसमे आपके शारीरिक हाइट भी होना जरुरी है| सामान्य आपकी हाइट न्यूतम 165Cm से लेकर 167Cm होनी चाहिए। तो एलिजिबिलिटी क्राइटेरिया यही आता है अब अगर आप इस क्राइटेरिया में है तो आप Pcs Exam के लिए अप्लाई कर सकते है। इसके बाद PCS Exam Pattern के बारे में जानेंगे।

  • Height 165cm-167cm

SDM Officers कैसे बनते है और एग्जाम कैसे देते है

 

पीसीएस परीक्षा  PCS Exam Syllabus

पीसीएस एग्जाम को तीन चरण में कराया जाता है यानि अगर आपको PCS एग्जाम में को क्लियर करना है तो उसके लिए आपको तीन चरण में एग्जाम को देना होगा। तो हम इन तीनो एग्जाम के बारे में एक एक करके जानेंगे।

  1. Prelims (प्रारंभिक परीक्षा)
  2. Mains (मुख्य परीक्षा)
  3. Interview (साक्षात्कार)

प्रारंभिक परीक्षा (Prelims)

तो सबसे पहले हम बात करते है प्रारंभिक परीक्षा (Prelims) के बारे में, जो सबसे पहला एग्जाम होता है उसे Preliminary Exam कहा जाता है। Prelims Exam के जो पहले पेपर होते थे वे दो ही पेपर होते थे और दोनों ही 200 मार्क्स के होते थे यानि की दोनों मिलकर टोटल 400 मार्क्स के पेपर होते थे। परन्तु आज के समय में इसके 4 पेपर होते है इसलिए इसका टोटल 800 मार्क्स होता है इसमें से दो पेपर में Objective टाइप के सवाल पूछे जाते है और पेपर देने का समय हर पेपर के लिए 2 घंटे का समय मिलता है।

प्रश्न पत्र: 1

सामान्य अध्ययन-1

  • प्राचीन भारत
  • मध्यकालीन भारत
  • आधुनिक भारत
  • राष्ट्रीय  अन्तराष्ट्रीय महत्व की समसामयिक घटनाएं
  • भारतीय धार्मिक आन्दोलन
  • भारतीय राष्ट्रीय आन्दोलन

प्रश्न पत्र: 2

सामान्य अध्ययन-2

  • सामान्य मानसिक योग्यता
  • तर्कशक्ति और विश्लेषण क्षमता
  • सामान्य समझ (कम्प्रीहेंशन)
  • संचार कौशल और अन्तरवैयक्तिक कौशल
  • निर्णय क्षमता और समस्या हल
  • दसवीं कक्षा के स्तर तक की प्रारंभिक गणित-अंकगणित, बीजगणित, ज्यामिति और सांख्यिकी

Gas Subsidy Check कैसे करें, Indane Gas Book ऐसे करें

मुख्य परीक्षा (Mains)

Mains एग्जाम भी Preliminary Exam की तरह ही होता है। यानि की ये एग्जाम भी आपका Written होगा। और इसका जो समय है हर एक सब्जेक्ट के लिए 3 घंटे मिलते है। Mains Exam में टोटल 8 पेपर होते है। और इसमें जितने भी पेपर होंगे। हर एग्जाम के बिच में आपको एक सप्ताह का गैप मिलता है।

अगर बात की जाये ऑप्शनल सब्जेक्ट की तो इसमें आपको एक ही ऑप्शनल सब्जेक्ट मिलता है और ऑप्शनल विषय को आप अपने इंटरेस्ट के हिसाब से चुन सकते है। अलग अलग राज्य में PCS Exam अलग अलग प्रकार से होता है जैसे की छतीशगढ, राजस्थान और उत्तराखंड में नेगेटिव मार्किंग लागु है वही कुछ राज्य ऐसे भी राज्य है जंहा पर नेगेटिव मार्किंग का कोई भी रूल नहीं है।

]
सामान्य हिंदी 150 अंक
निबंध 150 अंक
सामान्य अध्ययन 1 200 अंक
सामान्य अध्ययन 2 200 अंक
सामान्य अध्ययन 3 200 अंक
सामान्य अध्ययन 4 200 अंक
ऐच्छिक विषय 1 200 अंक
ऐच्छिक विषय 2 200 अंक
कुल अंक 1500

साक्षात्कार (Interview )

Mains Exam को क्लियर कर लेते है तो उसके बाद से आपको इंटरव्यू के लिए बुलाया जाता है। Interview टोटल 100 मार्क्स का होता है और जब आप अपना इंटरव्यू क्लियर कर लेते है तब आपकी रैंक के हिसाब से आपको पोस्ट ऑफर किया जाता है।

 इंटरव्यू में कई सारे सवाल आपके बारे में, और कल्चर के बारे में पूछा जाता है इसमें आपके IQ Level की जाँच होता है अगर आप Interviewer के सभी सवालो का जवाब दे देते है तब आपको जितने भी टोटल मार्क्स मिले होते है उसके हिसाब से आपका रैंक बनता है। जितना ज्यादा आपका रैंक अच्छा रहेगा। उतना ही अच्छा पोस्ट आपको ऑफर किया जाता है।

Uttar Pradesh Public Service Commission

 

PCS Salary

पीसीएस की सैलरी और पेंशन की बात करे तो ये आपके स्टेट और पोस्ट के ऊपर निर्भर करता है क्योकि जितने भी अलग अलग स्टेट है हर स्टेट में पीसीएस की सैलरी अलग अलग दी जाती है फिर भी अगर सैलरी की बात की जाये तो इसमें आपको लगभग सैलरी मिल सकती है 15000 से लेकर 70000 हजार तक मिल सकती है।

इसे भी पढ़ें

Conclusion

तो आज हमने इस पोस्ट में PCS Exam in Hindi के बारे में पूरी कम्पलीट इनफार्मेशन ली है जैसे की PCS Kya Hai और पीसीएस एग्जाम कैसे होता है कौन कौन कौन से सब्जेक्ट पढ़ना होता है। इन सभी के अलावा हमने Pcs की Salary के बारे में भी जाना है। अगर आपको ये पोस्ट पसंद आया है तो नीचे कमेंट कर सकते है। अगर आपको इस पोस्ट से सम्बंधित किसी भी प्रकार के सवाल है तो निचे कमेंट कर पूछ सकते है।

अगर आप Latest Job की की इनफार्मेशन अपने मोबाइल के मेल बॉक्स में पाना चाहते है तो ब्लॉग को सब्सक्राइब जरूर करे।

FAQs

पीसीएस फुल फॉर्म इन हिंदी?

पीसीएस का फुल फॉर्म “Provincial Civil Service” होता है.

PCS के लिए उम्र क्या होनी चाहिये?

अभ्यर्थी की आयु न्यूनतम 21 वर्ष और अधिकतम 40 वर्ष होनी चाहिए।

पीसीएस एग्जाम चरण?

Prelims (प्रारंभिक परीक्षा)
Mains (मुख्य परीक्षा)
Interview (साक्षात्कार)

2 thoughts on “पीसीएस (PCS) एग्जाम की तैयारी 2021 में कैसे करें | हिंदी गाइड”

  1. M delhi m rhti hu…to Delhi k PCs ka syllabus diffrent hoga..jo u tube p nrmly syllabus batate h …kya usse alag hoga…or delhi ka PCs ka syllabus kya h…uska pattern kya h….plzzz tell me

    Reply
    • हेल्लो सोनी, इंडिया में अलग-अलग राज्य के लिए State Public Service Commission (PSC) Exams होता है, जैसे बिहार के लिए BPSC और उत्तर प्रदेश के लिए UPPSC है. यदि आप Delhi से है, तो UPPSC से PCS एग्जाम को क्लियर कर सकती हैं | आप चाहें तो किसी भी राज्य से UPSC Exam को दे सकती हैं |

      Reply

Leave a Comment